मानसून ट्रैकर: मुंबई में बारिश की रफ्तार थमी, लेकिन आज रत्नागिरी और रायगढ़ के लिए रेड अलर्ट; भोपाल में 7 दिन पहले मानसून की दस्तक

मानसून ट्रैकर: मुंबई में बारिश की रफ्तार थमी, लेकिन आज रत्नागिरी और रायगढ़ के लिए रेड अलर्ट; भोपाल में 7 दिन पहले मानसून की दस्तक

Spread the love

रेड अलर्ट के बीच महाराष्ट्र के रत्नागिरी में सोमवार सुबह से ही तेज बारिश हो रही है।

मुंबई में पिछले 5 दिनों से हो रही मानसूनी बारिश की रफ्तार पर रविवार शाम को ब्रेक लग गया, लेकिन मौसम विभाग ने अब रत्नागिरी और रायगढ़ जिलों के लिए बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है। जबकि ठाणे, पुणे और उपनगरीय इलाकों में आज के लिए ऑरेंज अलर्ट है।

पिछले 24 घंटों में कोंकण के ज्यादातर इलाकों में भारी बारिश हुई है। मौसम विभाग के मुताबिक अगले 2-3 दिनों में मुंबई, ठाणे, अलीबाग और पालघर में भी तेज बारिश होगी।

मौसम विभाग ने कोंकण मंडल के मुंबई, ठाणे, पालघर, रायगढ़ और रत्नागिरी जिलों के लिए चेतावनी जारी करते हुए कहा, ‘कुछ जगहों पर बिजली कड़कने, आंधी आने, 30-40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने और भारी बारिश होने का अनुमान है।’

भारी बारिश के चलते मुंबई की पावना झील ओवरफ्लो हो गई है।

मुंबई में 5 दिन में सामान्य से 589.1 मिमी ज्यादा बारिश हुई
मुंबई में 8 से 12 जून के बीच 715.3 मिमी बारिश दर्ज की गई। यह सामान्य 126.1 मिमी की तुलना में 589.1 मिमी ज्यादा है। जबकि पूरे महीने में ही सामान्य बारिश का आंकड़ा 493.1 मिमी माना जाता है। ऐसे में महीना खत्म होने तक मुंबई में सामान्य से काफी ज्यादा बारिश हो जाएगी।

भारी बारिश की आशंका को देखते हुए महाराष्ट्र के तटीय जिलों में NDRF की कई टीमें तैनात की गई हैं।

भारी बारिश की आशंका को देखते हुए महाराष्ट्र के तटीय जिलों में NDRF की कई टीमें तैनात की गई हैं।

भोपाल में 7 दिन पहले मानसून की दस्तक
दक्षिण-पश्चिम मानसून मध्य प्रदेश में तो 10 जून को ही पहुंच गया था, लेकिन भोपाल में इसने रविवार को दस्तक दी। वैसे इसके यहां पहुंचने की तारीख मौसम विभाग ने पिछले साल 13 जून से एक हफ्ते बढ़ाकर 20 जून तय की थी, लेकिन इस बार संयोगवश मानसून अपनी पुरानी तारीख पर ही पहुंच गया। इससे भोपाल में रविवार दोपहर से रात करीब 10 बजे तक झमाझम बारिश हुई।

इस सीजन में अब तक यहां 4 इंच से ज्यादा बारिश हो चुकी है, जो कि अब तक की सामान्य बारिश 0.94 इंच से 318% ज्यादा है। इसका असर ये हुआ कि शहर की लाइफलाइन कहा जाने वाला बड़ा तालाब भरने लगा। इसका जलस्तर 0.05 फीट बढ़कर 1659.95 फीट पर पहुंच गया। जल संसाधन विभाग के रिटायर्ड चीफ इंजीनियर सुनील श्रीवास्तव की मानें तो बारिश का यही ट्रेंड रहा तो बड़ा तालाब जुलाई में ही अपने फुल टैंक लेवल 1666.80 फीट को पा लेगा।

राजस्थान: ज्यादातर इलाकों में तेज गर्मी, कुछ इलाकों में बारिश
प्रदेश में नौतपा के बाद जून में भीषण गर्मी पड़ रही है। इस बीच प्री मानसून का असर भी कुछ जिलों में देखने को मिल रहा है। रविवार को सवाई माधोपुर, श्रीगंगानगर और करौली में बारिश हुई। वहीं, झुंझुनूं और सीकर में तेज हवाएं चलीं। जयपुर के कुछ इलाकों में भी बूंदाबांदी हुई थी। मौसम विभाग के मुताबिक प्रदेश में अगले 4 दिन में हल्की बारिश हो सकती है। धूल भरी आंधी और 40 से 60 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने की भी संभावना है।

दिल्ली में अगले 2-3 दिन में पहुंच सकता है मानसून
दक्षिण भारत और पूर्वोत्तर के बाद अब मानसून देश के पूर्वी और मध्य भाग में सक्रिय हो गया है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के मुताबिक अब देश की राजधानी दिल्ली में अगले दो से तीन दिनों में मानसून पहुंचने की सबसे ज्यादा संभावना है।

मौसम विभाग ने रविवार तक मानसून के पूरे ओडिशा, पश्चिम बंगाल, झारखंड, बिहार, जम्मू और कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद और हरियाणा के कुछ हिस्सों, चंडीगढ़ और उत्तरी पंजाब को कवर करने का दावा किया है। ये देश के लगभग 80% भौगोलिक क्षेत्र को कवर करता है।

दिल्ली में रविवार शाम को हुई बारिश के बाद सड़कों पर पानी जमा हो गया।

दिल्ली में रविवार शाम को हुई बारिश के बाद सड़कों पर पानी जमा हो गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *