परेशानी: नर्मद यूनिवर्सिटी के ऑनलाइन मॉक टेस्ट के दौरान सॉफ्टवेयर में आई गड़बड़ी, 28 हजार छात्र परीक्षा में शामिल नहीं हो सके

परेशानी: नर्मद यूनिवर्सिटी के ऑनलाइन मॉक टेस्ट के दौरान सॉफ्टवेयर में आई गड़बड़ी, 28 हजार छात्र परीक्षा में शामिल नहीं हो सके

Spread the love

फाइल फोटो।

वीर नर्मद दक्षिण गुजरात यूनिवर्सिटी की बीकॉम, बीए, बीबीए, बीसीए और बीएससी थर्ड सेमेस्टर का गुरुवार को ऑनलाइन मॉक टेस्ट में गड़बड़ी होने से 28 हजार छात्र परीक्षा में शामिल नहीं हो सके। शुक्रवार को दोबारा मॉक टेस्ट होगा।

यूनिवर्सिटी ने ऑनलाइन परीक्षा लेने से पहले दो मॉक टेस्ट लेने का निर्णय लिया है। गुरुवार दोपहर 3 से शाम 6 बजे तक बीकाॅम, बीए, बीबीए, बीसीए और बीएससी थर्ड सेमेस्टर का पहला मॉक टेस्ट था। अधिकतर छात्रों के मोबाइल या कम्प्यूटर में सॉफ्टवेयर डाउनलोड नहीं हुआ।

बीएससी के फर्स्ट सेमे. के रेगुलर टेस्ट में 80% हाजिरी
बीएससी के फर्स्ट सेमेस्टर का रेगुलर टेस्ट गुरुवार से शुरू हुआ। यूनिवर्सिटी के अनुसार पहले दिन छात्रों की 80% हाजिरी रही। वहीं, सूत्रों का कहना है कि बहुत कम छात्र परीक्षा में शामिल हुए थे। छात्रों ने
ऑनलाइन परीक्षा के फाॅर्म में गलत जानकारी दी होगी। इस वजह से पासवर्ड नहीं पहुंच पाया। अधिकांश छात्र ऑनलाइन परीक्षा की गाइडलाइन को नहीं समझ पाए। शुक्रवार को दोबारा परीक्षा आयोजित की जाएगी। हमें 1249 कॉल मिले हैं। परीक्षा के दौरान एक साथ फोन आने से सब का जवाब नहीं दे पाए।

परीक्षा देने से दो-तीन घंटे पहले छात्रों को सॉफ्टवेयर या एप्लीकेशन में एसपीआईडी और पासवर्ड से वीएनएसजीयू डाॅट नेट में जाकर लॉगिन करना होगा। तब पासवर्ड मिलेगा। पासवर्ड को एसपीआईटी या आईडी और मोबाइल नंबर से ऑनलाइन परीक्षा के मोड्यूल में एंटर करके परीक्षा देनी होगी। -डॉ. केएन चावड़ा, कुलपति

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *