एकेडमिक काउंसिल की बैठक 12 को: छात्र प्रवेश से वंचित न रह जाएं इसलिए यूनिवर्सिटी दोहरी प्रवेश प्रणाली शुरू करने की कर रही तैयारी

एकेडमिक काउंसिल की बैठक 12 को: छात्र प्रवेश से वंचित न रह जाएं इसलिए यूनिवर्सिटी दोहरी प्रवेश प्रणाली शुरू करने की कर रही तैयारी

Spread the love
  • जुलाई 2021 और जनवरी 2022 में प्रवेश प्रक्रिया की योजना

वीर नर्मद दक्षिण गुजरात यूनिवर्सिटी विदेशी विश्वविद्यालयों की तरह दोहरी प्रवेश प्रणाली शुरू करने की तैयारी में है। यह प्रणाली लागू होने के बाद छात्र प्रवेश से वंचित नहीं रहेंगे। यूनिवर्सिटी में 12 जून को एकेडमिक काउंसिल की बैठक होगी, जिसमें सिडीकेट सदस्य डॉ. कश्यप खरासिया की लिखित सिफारिश पेश की जाएगी।

सिंडीकेट सदस्य ने लिखा है कि नर्मद यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेने वाले अधिकांश छात्रों को उनकी इच्छानुसार कोर्स वाले कॉलेजों में प्रवेश नहीं मिलता है। इस वजह से छात्र बीच में ही पढ़ाई छोड़ देते हैं। इस स्थिति को देखते हुए दोहरी प्रवेश प्रणाली शुरू की जाए। इसके अनुसार जुलाई और जनवरी में प्रवेश प्रक्रिया शुरू हो सकती है।

यह प्रक्रिया केवल आर्ट्स, कॉमर्स और साइंस फैकल्टी के रेगुलर और एक्सटर्नल कोस में लागू की जा सकती है। इस प्रणाली से नई शिक्षा नीति-2020 में ग्रोस एनरोलमेंट अनुपात में काफी बढ़ोतरी होगी। इसके साथ ही छात्र भी प्रवेश से वंचित नहीं रहेंगे। सिंडीकेट की बैठक में इसे मंजूरी मिलने की संभावना है।

1 से 13 नवंबर तक दिवाली वैकेशन होगा, उसके बाद होंगी परीक्षाएं

एकेडमिक काउंसिल की बैठक में शिक्षा विभाग के कॉमन एकेडमिक कैलेंडर को भी रखा गया है। जिसमें लिखा है कि दिवाली वैकेशन 1 से 13 नवंबर को रहेगा। उसके बाद कॉलेजों में इंटरनल परीक्षाएं और यूनिवर्सिटी की मुख्य परीक्षा होगी। इसके पूरा होने के बाद 1 दिसंबर से दूसरा शैक्षणिक सत्र शुरू होगा और फरवरी-मार्च-2022 तक परीक्षा भी पूरी करनी होगी। नया शैक्षणिक वर्ष 2022-23 15 जून से शुरू होगा। यूजी और पीजी के सेमेस्टर-1 के लिए शिक्षा विभाग नया कैलेंडर जारी करेगा। बैठक में इस कैलेंडर पर भी चर्चा होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *