21 राज्यों का लॉकडाउन अपडेट: MP, UP और J&K में अनलॉक की शुरुआत, महाराष्ट्र, हरियाणा और पंजाब में लॉकडाउन बढ़ा; बिहार, राजस्थान में फैसला बाकी

21 राज्यों का लॉकडाउन अपडेट: MP, UP और J&K में अनलॉक की शुरुआत, महाराष्ट्र, हरियाणा और पंजाब में लॉकडाउन बढ़ा; बिहार, राजस्थान में फैसला बाकी

Spread the love

देशभर में कोरोना के नए मामलों में कमी आ रही है, लेकिन मौत के आंकड़े में ज्यादा बदलाव देखने को नहीं मिल रहा है। इसी बीच 1 जून से कई राज्यों में अनलॉक की शुरुआत हो रही है। कई राज्यों में पाबंदियों में धीरे-धीरे ढील दी जा रही है तो कुछ राज्य ऐसे भी हैं, जिन्होंने लॉकडाउन आगे बढ़ाने का फैसला लिया है।

राजस्थान, झारखंड, दिल्ली, महाराष्ट्र, पंजाब, पश्चिम बंगाल सहित कई राज्यों ने लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला लिया है। वहीं मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश, झारखंड, जम्मू-कश्मीर सहित कुछ राज्यों ने लॉकडाउन की पाबंदियों को कम करने का निर्णय लिया है।

राजस्थान: एक जून से खुल सकते हैं 22 जिले
राजस्थान में 8 जून तक लॉकडाउन जारी रखने का फैसला लिया गया है। हालांकि एक जून से प्रदेश के कम संक्रमित कुछ जिलों में लॉकडाउन खोलने पर फैसला हो सकता है। 19 दिन के लॉकडाउन के दौरान राज्य में 22 जिलों की संक्रमण दर 5% से भी नीचे और इसकी भी करीब आधी रही है। एक जिले में 5% से कुछ ही अधिक है। यानी इन जिलों में हर 100 सैंपल पर 5 से कम मरीज मिले हैं।

ये आंकड़े रविवार के हैं।

महाराष्ट्र: 15 जून तक लॉकडाउन बढ़ा
महाराष्ट्र में केस कम होने के बावजूद राज्य सरकार ने लॉकडाउन 15 जून तक के लिए बढ़ा दिया है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को इसका ऐलान किया। उन्होंने कहा कि हम नहीं कह सकते कि कोरोना की तीसरी लहर कब आएगी, लेकिन हमें अपनी सुरक्षा कम नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश के कुछ जिलों में अब भी केस बढ़ रहे हैं।

राज्य में 31 मई तक पहले ही पाबंदियां लागू थीं, अब इन्हें अगले 15 दिन के लिए जारी रखने का फैसला किया गया है। उद्धव ने कहा है कि हर दिन मिलने वाले मामलों में कमी के बावजूद ये पिछली लहर के पीक के पास हैं। महाराष्ट्र में रविवार को 18,600 नए केस मिले हैं। ये मिड मार्च के बाद सबसे कम हैं। इस बीच 24 घंटों में 402 मरीजों की मौत भी हुई है। इससे पहले 16 मार्च को राज्य में 17,864 मामले दर्ज किए गए थे।

बिहार: 7 जून तक बढ़ सकता है लॉकडाउन
बिहार सरकार कोरोना को लेकर कोई रिस्क लेने के पक्ष में नहीं है। राज्य में लॉकडाउन बढ़ाया जा सकता है। CM नीतीश कुमार इसे लेकर खुद मॉनिटरिंग कर रहे हैं। लॉकडाउन का चौथा चरण 2 जून से 7 जून तक बढ़ाया जा सकता है। इसमें कुछ छूट भी दी जा सकती है। नीतीश कुमार इसकी घोषणा सोमवार को कर सकते हैं।

फैसले से पहले नीतीश ने सभी जिलों के DM और प्रधान सचिव से शनिवार को हाईलेवल मीटिंग की। मीटिंग में शामिल अधिकारी के मुताबिक, सरकार 7 जून तक लॉकडाउन को बढ़ा सकती है। फिलहाल बिहार में 1 जून तक लॉकडाउन है।

मध्यप्रदेश: एक जून से अनलॉक, व्यापारियों की मांग- सभी दुकान खुलें
मध्यप्रदेश में 1 जून से अनलॉक की शुरुआत हो रही है। इंदौर में सोमवार को क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक होनी है। इसमें तय किया जाएगा कि इंदौर शहर में अनलॉक में क्या खुलेगा और क्या बंद रखा जाएगा। फिलहाल खेती-किसानी से संबंधित दुकानें और किराना दुकानों का समय बढ़ाने पर फैसला हो सकता है। जहां भीड़ नहीं होती है, ऐसे दफ्तरों को खोलने की छूट मिल सकती है।

भोपाल में रविवार को क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक हुई। भोपाल जिले के प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग और कलेक्टर अविनाश लवानिया से व्यापारियों ने स्मार्ट सिटी ऑफिस में मुलाकात की और सभी दुकानों को 1 जून से खोलने की अनुमति मांगी।

भोपाल में वीकेंड लॉकडाउन का प्रस्ताव, ग्वालियर में दो शिफ्ट में खुलेंंगी दुकानें

झारखंड: 3 जून तक लॉकडाउन
झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने 3 जून तक राज्य में लॉकडाउन लागू रखने की घोषणा की है। यहां रविवार को 703 नए कोरोना संक्रमित मिले तो इससे दोगुने 1,724 मरीज स्वस्थ भी हुए। राज्य में अभी 9,905 एक्टिव केस हैं। अब तक 3,36,943 कोरोना मरीज मिल चुके हैं और 4,978 लोगों की कोरोना से मौत हुई है। इससे पहले शुक्रवार को सिर्फ दो जिलों में मरीजों का आंकड़ा 100 से ऊपर पहुंच गया था।

CM हेमंत सोरेन ने पूछा- बताइए कैसा होना चाहिए अनलॉक-1

उत्तर प्रदेश: 55 जिलों से लॉकडाउन हटाया, 20 जिलों में बढ़ाया
उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण दर 1% से नीचे आने के बाद राज्य अनलॉक की तरफ बढ़ रहा है। योगी सरकार ने रविवार को प्रदेश के 75 में से 55 जिलों से लॉकडाउन हटाने का ऐलान किया। यहां अब वीकेंड लॉकडाउन (शनिवार-रविवार) लागू होगा।

दुकान और बाजार अब सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक खुलेंगे। अभी तक सिर्फ किराना, मेडिकल की दुकानों को सुबह 11 बजे तक ही खोलने की अनुमति थी। हालांकि शॉपिंग मॉल बंद रहेंगे। राजधानी लखनऊ, इलाहाबाद समेत 20 जिलों में कोरोना कर्फ्यू 7 जून तक के लिए बढ़ा दिया गया है। कारण यहां 30 मई तक 600 से ज्यादा एक्टिव केस हैं। इन जिलों में पहले की तरह ही सख्ती रहेंगी। जो पहले छूट मिल रही थी। वही छूट फिलहाल अभी मिलेगी।

इन 20 जिलों में 7 जून तक लागू रहेंगी पाबंदियां
लखनऊ, मेरठ, सहारनपुर, वाराणसी, गाजियाबाद, गोरखपुर, मुजफ्फरनगर, बरेली, गौतमबुद्धनगर, बुलंदशहर, झांसी, प्रयागराज, लखीमपुर खीरी, सोनभद्र, जौनपुर, बागपत, मुरादाबाद, गाजीपुर, बिजनौर और देवरिया में फिलहाल कोई छूट नहीं दी गई हैं।

हरियाणा: 7 जून तक लॉकडाउन बढ़ा
हरियाणा सरकार ने 7 जून तक लॉकडाउन बढ़ा दिया है। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्‌टर ने कहा है कि दुकानें अब सुबह 9 बजे से दोपहर 3 बजे तक खोली जा सकती हैं। दुकानदारों को ऑड-ईवन फॉर्मूले पर खोला जाएगा। 15 जून तक शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे। रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक रात का कर्फ्यू जारी रहेगा। राज्य में 3 मई को लॉकडाउन की घोषणा की गई थी। इसके बाद हर सप्ताह इसकी अवधि में बढ़ोतरी की गई है।

दिल्ली से सटे हरियाणा के जिलों गुरुग्राम, सोनीपत, पलवल, फरीदाबाद में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में तेजी से कमी आई है, लेकिन हरियाणा सरकार किसी तरह का कोई जोखिम नहीं लेना चाहती है। यही वजह है कि गुरुग्राम, नया गुरुग्राम, फरीदाबाद, बल्लभगढ़, पलवल, सोनीपत, बहादुरगढ़, रोहतक, पानीपत, रेवाड़ी, महेंद्रगढ़ और नारनौल में लॉकडाउन 7 जून तक बढ़ा दिया गया है। हालांकि इस दौरान राज्य सरकार द्वारा लोगों को प्रतिबंधों पर से छूट भी दी गई है।

पंजाब में 10 जून तक लॉकडाउन बढ़ाया
पंजाब में मिनी लॉडाउन 10 जून तक बढ़ा दिया गया है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कोरोना से जुड़ी पाबंदियों की तारीख बढ़ाने की घोषणा की। हालांकि मुख्यमंत्री ने कोरोना संक्रमण के मामलों में आ रही गिरावट को देखते हुए निजी वाहनों में यात्रियों की संख्या की सीमा को हटाने का आदेश दिया है।

सरकार ने वैकल्पिक सर्जरी और पूर्ण OPD संचालन बहाल करने की भी मंजूरी दे दी है। इसके अलावा ऑक्सीजन का इंडस्ट्री में उपयोग किया जा सकेगा। इस बीच पंजाब में वैक्सीन की किल्लत के बाद वैक्सीनेशन बुरी तरह से प्रभावित हुआ है।

दिल्ली में फैक्ट्रियां खुलीं, काम करने पहुंचे 50 फीसदी लेबर
दिल्ली में अनलॉक की प्रकिया शुरू हो गई है। राजधानी में अभी सिर्फ कंस्ट्रक्शन और इंडस्ट्री को राहत दी गई है। इन फैक्ट्रियों में कोरोना नियमों का पालन करना जरूरी होगा। फैक्ट्रियों को सैनेटाइज किया गया है। जो लोग काम करने आ रहे हैं, उनका टेंपरेचर चेक किया जा रहा है।

सैनेटाइज करवाने के बाद ही उन्हें फैक्ट्री के अंदर एंट्री दी जा रही है। मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का खास ख्याल रखा जा रहा है। उद्योग से जुड़े एसोसिएशन के सदस्यों का कहना है कि ई-पास की अनिवार्यता उनके लिए बड़ी समस्या बन रही है, इसलिए सरकार इसमें छूट दें और साथ ही औद्योगिक क्षेत्र में काम करने वाले लोगों का जल्द वैक्सीनेशन करवाया जाए। हालांकि, लॉकडाउन की पाबंदियों को 7 जून तक बढ़ा दिया गया है। जरूरी गतिविधियों को छोड़कर 7 जून तक आवाजाही पर रोक जारी है, लेकिन 31 मई (सोमवार) से पाबंदियों में राहत मिलनी भी शुरू हो गई है।

पश्चिम बंगाल, कर्नाटक, तमिलनाडु, पुडुचेरी, तेलंगाना और केरल
पश्चिम बंगाल में 30 मई को कोरोना से जुड़े प्रतिबंध खत्म हो रहे थे, जिन्हें 15 जून तक बढ़ा दिया गया है। तमिलनाडु और पुडुचेरी में 7 जून तक लॉकडाउन जारी है। केरल सरकार ने लॉकडाउन 9 जून तक बढ़ा दिया है। कर्नाटक में 7 जून तक लॉकडाउन रहेगा। आंध्र प्रदेश में तिरुपति और चित्तूर जिले में कोरोना कर्फ्यू को सख्त कर दिया गया है। यहां 15 जून तक लॉकडाउन बढ़ सकता है। इसके अलावा तेलंगाना में लॉकडाउन 10 दिनों के लिए बढ़ा दिया गया है।

जम्मू-कश्मीर, अरुणाचल, मिजोरम, मेघालय, मणिपुर और नगालैंड
जम्मू-कश्मीर में 31 मई से अनलॉक की प्रक्रिया शुरू हो रही है। यहां बाहरी क्षेत्र के बाजार खुलेंगे। सार्वजनिक परिवहन 50% क्षमता के साथ खुलेगा। मिजोरम में 6 जून, मेघालय और अरुणाचल के 7 जिलों में 7 जून, मणिपुर के 7 जिलों में 11 जून और नगालैंड में 11 जून तक लॉकडाउन रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *