‘राधे’ के एक्टर की गिरफ्तारी की मांग: रणदीप हुड्डा ने मायावती पर किया भद्दा और सेक्सिस्ट जोक, सोशल मीडिया यूजर्स बोले- उन्हें अरेस्ट करो

‘राधे’ के एक्टर की गिरफ्तारी की मांग: रणदीप हुड्डा ने मायावती पर किया भद्दा और सेक्सिस्ट जोक, सोशल मीडिया यूजर्स बोले- उन्हें अरेस्ट करो

Spread the love

हाल ही में सलमान खान स्टारर ‘राधे : योर मोस्ट वांटेड भाई’ में मुख्य विलेन के किरदार में दिखे रणदीप हुड्डा बहुजन समाज पार्टी की नेता और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती पर भद्दा जोक कर विवादों में घिर गए हैं। लोगों ने उनके जोक को सेक्सिस्ट और जातिवादी बताया है। इसके साथ ही उनकी गिरफ्तारी की मांग भी की जा रही है। सोशल मीडिया पर #arrestRandeepHooda ट्रेंड कर रहा है।

क्या है मामला?
रणदीप हुड्डा का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें वे एक कार्यक्रम के दौरान स्टेज पर मौजूद है और ऑडियंस को संबोधित कर रहे हैं। इस दौरान रणदीप ऑडियंस की ओर देखते हैं और कहते हैं कि वे उन्हें एक बहुत गंदा जोक सुनाना चाहते हैं।

इसके आगे वे जोक सुनाते हैं, जो इस प्रकार है:- मिस मायावती सड़क पर दो बच्चो (लड़कों) के साथ जा रही थीं। वहां एक आदमी ने पूछा क्या ये बच्चे जुड़वां हैं? वे कहती हैं-नहीं, नहीं। यह 4 साल का है और यह 8 साल का। वह आदमी कहता है- मैं यकीन नहीं कर सकता कि कोई यहां दूसरी बार भी जा सकता है?”

ऐसे बढ़ा विवाद?
रणदीप हुड्डा के जोक को कई सोशल मीडिया यूजर्स ने आड़े हाथ लिया है। CPIML नेता कविता कृष्णन ने नाराजगी जताते हुए अपनी पोस्ट में लिखा है, “ऐसे ही जाति आधारित सेक्शुअल वायलेंस हमेशा काम करता है। साथ ही दलित, आदिवासी महिला को बदसूरत, गंदी और घृणास्पद तरीके से पेश किया जाता है और सभी के लिए अत्यधिक रूप से कामुक और उपलब्ध बताया जाता है। यह दोहरी रणनीति कैसे काम करती है, इसके उदाहरण के तौर पर सूर्पणखा के बारे में सोचें।”

एक सोशल मीडिया यूजर ने प्रतिक्रिया देते हुए लिखा है, “पहले इस आदमी के लिए बहुत सम्मान था। लेकिन वह बहुत ही अमानवीय, सेक्सिस्ट और जाहिरतौर पर जातिवादी है।”

एक यूजर ने लिखा है, “क्या इससे पता नहीं चलता कि हमारा समाज कितना जातिवादी और सेक्सिस्ट है। खासकर दलित महिलाओं के प्रति। मुझे नहीं पता कि क्या होगा। मजाक, दुस्साहस, भीड़। बॉलीवुड के टॉप एक्टर रणदीप हुड्डा एक दलित महिला के बारे में बात कर रहे हैं, जो उत्पीड़ितों की आवाज रही है।”

एक यूजर का कमेंट है, “प्रिय रणदीप हुड्डा। तथाकथित आदमी बनें। अपनी गलती के लिए मुंबई पुलिस के सामने आत्मसमर्पण करें। अगर आप चाहें तो मैं अपराध की व्याख्या और दंडात्मक धाराओं के बारे में लिख सकता हूं। वर्ना कानूनी तौर पर आपको वैसे भी जेल जाना होगा। अपना ख्याल रखें।”

एक यूजर ने लिखा है, “यह दलित महिला के बारे में नहीं है। जाति और धर्म से परे जाकर महिलाओं का सम्मान करना चाहिए। रणदीप हुड्डा तुम पर लानत है। तुम पर यौन शोषण और जातिवाद का आरोप है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *