कोरोना वायरस कहां से आया: पहली बार भारत ने इसकी जांच का आधिकारिक तौर पर समर्थन किया, चीन का नाम लिए बगैर कहा- सभी देश सहयोग करें

कोरोना वायरस कहां से आया: पहली बार भारत ने इसकी जांच का आधिकारिक तौर पर समर्थन किया, चीन का नाम लिए बगैर कहा- सभी देश सहयोग करें

Spread the love

कोरोना की शुरुआत चीन के वुहान शहर से होने की बात पिछले साल से ही उठ रही है। WHO की टीम ने इसकी जांच भी की, लेकिन पुष्टि नहीं हुई।- फाइल फोटो।

भारत ने पहली बार आधिकारिक रूप से कहा है कि कोरोना वायरस कहां से आया इस पर अभी और ज्यादा जांच की जरूरत है। भारत ने कोरोना वायरस के ओरिजन पर आगे और जांच पड़ताल और रिसर्च समर्थन किया है। विदेश मंत्रालय ने कहा है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की रिपोर्ट इस रिसर्च का पहला फेज था। किसी फैसले तक पहुंचने के लिए आगे और स्टडी की जरूरत है। भारत ने चीन का नाम लिए बिना कहा कि कोरोना के ओरिजिन की जांच के लिए WHO के साथ जांच में सभी पक्षों का सहयोग जरूरी है।

कोरोना वायरस के ओरिजन को लेकर चीन पर शुरू से ही सवाल उठते रहे हैं। कोरोना चीन का मैन मेड (तैयार किया गया) वायरस हो सकता है। यह बात धीरे-धीरे पुख्ता होती जा रही है। पहले ऑस्ट्रेलियाई मीडिया ने चीन में 2015 में कोरोना पर रिसर्च होने का दावा किया था। फिर अमेरिकी मीडिया ने भी कुछ दिन पहले वायरस को लेकर बड़ा खुलासा किया है। अमेरिकी अखबार वॉल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट के मुताबिक, चीन ने दुनिया और विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) से बहुत जरूरी जानकारी छिपाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *