वैक्सीन लगवाने की होड़: मुफ्त में नहीं मिली तो अब लोग 1000 रु. देने को तैयार, अहमदाबाद के GMDC ग्राउंड में पेड ड्राइव थ्रू वैक्सीनेशन शुरू

वैक्सीन लगवाने की होड़: मुफ्त में नहीं मिली तो अब लोग 1000 रु. देने को तैयार, अहमदाबाद के GMDC ग्राउंड में पेड ड्राइव थ्रू वैक्सीनेशन शुरू

Spread the love

सुबह 6 बजे से ही ग्राउंड में 200 से अधिक वाहन कतार में खड़े नजर आए।

कोरोना संक्रमण बढ़ने के चलते अब 18 से 44 वर्ष की उम्र के सभी लोगों को वैक्सीन दी जा रही है। हालांकि, अहमदाबाद कॉर्पोरेशन अधिक से अधिक वैक्सीनेशन के टार्गेट को पूरा करने में विफल रहा। इसके चलते जीएमडीसी ग्राउंड में अब पेड ड्राइव-थ्रू वैक्सीनेशन शुरू किया गया है। इसके तहत ऑन स्पॉट रजिस्ट्रेशन करने के बाद 1000 रुपए खर्च कर वैक्सीन लगवाई जा सकती है।

अहमदाबाद नगर निगम द्वारा पहले आरटी-पीसीआर टेस्ट के लिए ड्राइव-थ्रू टेस्ट का अभियान चलाया गया था।

अहमदाबाद नगर निगम द्वारा पहले आरटी-पीसीआर टेस्ट के लिए ड्राइव-थ्रू टेस्ट का अभियान चलाया गया था।

सुबह 6 बजे से ही लग गई लाइन
अहमदाबाद नगर निगम द्वारा पहले आरटी-पीसीआर टेस्ट के लिए ड्राइव-थ्रू टेस्ट का अभियान चलाया गया था। इसके बाद अब जीएमडीसी ग्राउंड में ही अपोलो अस्पताल के जरिए वैक्सीनेशन का कैंपेन चलाया जा रहा है, जिससे कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लग सके। निगम द्वारा कल ही पेड थ्रू-वैक्सीनेशन की घोषणा की गई थी। वहीं, आज सुबह 6 बजे से ही ग्राउंड में 200 से अधिक वाहन कतार में खड़े नजर आए।

सुबह 6 बजे पहुंचे, लेकिन नंबर 9 बजे आया
इसी मौके परकी टीम ने मौके पर मौजूद कुछ लोगों से बातचीत की। इस बारे में विशाल पटेल ने बताया कि हम वैक्सीन लगवाने के लिए सुबह 6 बजे ही लाइन में लग गए थे। लेकिन, वैक्सीनेशन ही 9 बजे शुरू हुआ। इससे पहले रजिस्ट्रेशन करवाया था, लेकिन काफी कोशिशों के बाद भी नंबर नहीं आ सका। इसलिए आज पैसे देकर वैक्सीन लगवाने आया हूं।

अपोलो अस्पताल के जरिए वैक्सीनेशन का कैंपेन चलाया जा रहा है, जिससे कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लग सके।

अपोलो अस्पताल के जरिए वैक्सीनेशन का कैंपेन चलाया जा रहा है, जिससे कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लग सके।

वैक्सीनेशन के लिए पहुंचे जैमीन शाह ने बताया कि मैं 45 मिनट से लाइन में खड़ा हुआ हूं और अपनी बारी का इंतजार कर रहा हूं। वैक्सीनेशन के लिए सरकार द्वारा जारी पोर्टल पर पहले कई बार रजिस्ट्रेशन की कोशिश की, लेकिन हर बार स्लॉट खुलते ही भर जाता था। इसके चलते आज यहां आया हूं कि कम के कम पैसे देने के बाद तो वैक्सीन लग ही जाएगी।

अपोलो अस्पताल के एक अधिकारी डॉ. बालाजी पिल्लई ने बताया कि टीकाकरण के लिए ग्राउंड में 4 डोम बनाए गए हैं। कॉर्पोरेशन ने अभी हमें जीएमडीसी ग्राउंड में ही ड्राइव-थ्रू वैक्सीनेशन के लिए आमंत्रित किया है। कॉर्पोरेशन ने अस्पताल से जीएमडीसी ग्राउंड का किराया नहीं मांगा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *